Posts

Showing posts from March, 2017

योगी आदित्यनाथ: युवा जनादेश से निकला एक प्रखर चेहरा

Image
‘’मुझे योगी आदित्यनाथ में कोई कमी नहीं दिखती क्योंकि जनता उन्हें अपना वास्तविक नेता मानती है। यदि हम जनता के बारे में सोचते हैं, तो हमें जनता के निर्णय की दिशा में जाने के लिए तैयार रहना चाहिए क्योंकि जनादेश स्वांतःसुखाय कभी नहीं होता है।‘’
(राजीव रंजन प्रसाद) --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
-----------------
हाल ही में उत्तर प्रदेश का जनादेश (2017) भारी बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी नित राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधनके साथ गया जिसका युवा चेहरा योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने हैं। योगी आदित्यनाथ की अपनी रामकहानी औरअपना अलग ही सफ़रनामा है। वे यूपी के धाकड़ राजनीतिज्ञ हैं, तो उनकी ज़मीनी पकड़ शानदार है।उनको लेकर बौद्धिक वर्ग में आशांकाएँ बहुत हैं, तो संदेहों की भरमार है।भारत के मतदाता के बदलते मिज़ाज को भाँपने में असफल रहे बौद्धिकों का एक बड़ा तबका कुंठित हैं क्योंकिउसके पास जवाब तो ढेरों हैं; लेकिन विकल्प एक भी नहीं है।ध्यान देना होगा कि योगी आदित्यनाथ अब तक क्या थे और उन्होंने राजनीति में कौन-कौन से कारनाम…